Friday, September 23, 2022
Homeबिज़नेस आईडियापेड़ पौधों से तैयार करते है ये दूध आप भी देखे...

पेड़ पौधों से तैयार करते है ये दूध आप भी देखे कैसे बनाया जाता है

पेड़ पौधों से तैयार करते है ये दूध आप भी देखे कैसे बनाया जाता है

आज दुनिया बहुत आगे बढ़ चुकी है हर चीज में चाहे वो कोई भी फिल्ड क्यों नहीं हो अब पहले एक वक़्त था जब लोग जानवरो के दूध पर निर्भर रहते थे चाहे वो गाय हो भैस हो या बकरी ऐसे बहुत से जानवर है जिसका दूध लोग सदियों से पीते आये है पर टेक्नोलॉजी का जमाना है और दुनिया बहुत एडवांस हो चुकी है और अब जानवरो के दूध को छोड़कर बहुत से चीजों से मिल्क बनाने लगी है जिसको जानवरो के दूध से भी ज्यादा फायदेमंद बताया जा रहा है सोया मिल्क का नाम तो आपने सुना होगा जिससे लोग सोया से मिल्क बनांते है लेकिन आजकल ओट से भी दूध बनाने लगे है और उससे बहुत से मिनरल और विटामिन्स से भरपूर बताया जा रहा है और यहाँ तक की जिससे दूध का स्वाद पसंद नहीं है वो लोग ओट दूध में अपनी पसंद का फ्लेवर भी डाल सकते है और अपना मनपसंद दूध बना सकते है.

कर्नाटक में रहने वाले सुमेर ने अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर प्लांट बेस्ड मिल्क तैयार करने का स्टार्टअप तैयार किया है जिसमे ये लोग ओट से दूध बनाते है और देश भर में इसे बेच रहे है चाहे ऑनलाइन हो या ऑफलाइन और इसकी सेल भी बहुत बढ़िया तरीके से हो रही है सुमेर और उनके दो दोस्त जिन्होंने अमेरिका से MBA किया है और वो कुछ नया करना चाहते थे जिसमे उन्होंने काफी रिसर्च के बाद देखा की भारत में लोग अधिकतर जानवरो के दूध पर निर्भर रहते है जबकि अमेरिका में ऐसा नहीं है वहाँ प्लांट बेस्ड मिल्क पर ज्यादा फोकस किया जाता है और वो जानवरो के दूध से भी ज्यादा गुणकारी होता है इसमें विटामिन बी अच्छी मात्रा में होता है और इस मिल्क से हड्डिया भी मजबूत होती है और खासतौर से ये बच्चो के लिए तो बहुत ज्यादा फायदेमंद है और इसी वजह से उन्होंने भारत में ओट से दूध बनाने का सोचा और आज ये उनका अच्छा खासा कमाई का जरिया बन चुका है.

कैसे तैयार होता है ये मिल्क
प्लाट बेस्ड जो मिल्क तैयार होता है उसकी प्रोसेसिंग मशीनरी और टेक्नीकल दोनों होती है इसके लिए ये लोग पहले प्लांट सेलेक्ट करते है की मिल्क कहाँ बनाना है इसके बाद प्लाट के उस पार्ट को फाइंड आउट किया जाता है जिससे मिल्क बनाना है इसके बाद उसके बीन और नट को अच्छे से ग्राइंड किया जाता है फिर उसमे पानी कुछ फ्लेवर्स मिनरल्स और विटामिन्स मिलाये जाते है इसके बाद जो एक्सपर्ट होते है उनकी टीम उसपे प्रोसेस करती है और बनने के बाद क़्वालिटी चेक की जाती है और फिर इसे बेचा जाता है इसकी प्राइस की बात करे तो एक पैकेट की कीमत 299 रुपय रखी गयी है

क्या खासियत होती है इसमें
प्लांट बेस्ड मिल्क को जानवरो के दूध से ज्यादा फायदेमंद बताया जा रहा है कहाँ जा रहा है की ये लैक्टोज फ्री होता है और इसी कारण लोग इससे ज्यादा लाभकारी बता रहे है साथ ही इसका टेस्ट भी चेंज किया जा सकता है और इसमें अपनी पसंद के विटामिन्स और मिनरल्स भी डाल सकते है जब की एनिमल मिल्क में ऐसा नहीं होता है अभी भी भारत में इस मिल्क ने इतनी रफ़्तार नहीं पकड़ी है क्यों की इसकी कीमत एनीमल मिल्क से काफी ज्यादा है जिससे इसे कम लोग ही खरीद पाते है.

Nandini Yadav
Nandini Yadav
I am Nandini Yadav living in Jaipur,I have created this space to share my knowledge experience and love on all thing Beauty,Fashion,Travel and Lifestyle.View Complete Profile

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read